Ukraine Russia Conflict: India Established 24-hour Helpline At Embassy

Spread the love

Ukraine Russia Conflict

Ukraine Russia Conflict news : यूक्रेन और रूस का नियमित रूप से जारी है लग भग 2 महीने के बाद भी Ukraine Russia Conflict विवाद नहीं खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है . गौरतलब है की आक्रामक रूसी सैनिकों को यूक्रेन की सीमा से वापस बेस पर बुलाए जाने के बावजूद लगातार तनाव Ukraine Russia Conflict  अभी भी जारी है . जिस पर USA और चीन जैसे बड़े देशों की नजर बनी हुई है. इस दौरान  यूक्रेन में रहने वाले  भारतीय मूल के नागरिक को  को लेकर भी चिंताएं बढ़ती जा रही हैं. यहां रहने वाले भारतीय स्टूडेंट और  लोग भारत के नागरिक वापस आने की कोशिश कर रहे हैं.  भारतीय विदेश मंत्रालय  सकारात्मक कदम उठाते हुए  एक कंट्रोल रूम तैयार किया गया है जो 24 घंटे भारतीय नागरिकों की सहायता करेगा . 

Ukraine Russia Conflict  विदेश मंत्रालय ने बनाया कंट्रोल रूम 

यूक्रेन में रहने वाले भारतीयों के परिवार के लिए विदेश मंत्रालय ने इस कंट्रोल रूम को तैयार किया है. लोगों के लिए इस कंट्रोल रूम का हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है. अगर किसी को भी यूक्रेन में अपने परिजनों को लेकर कुछ जानकारी चाहिए तो वो हेल्पलाइन नंबर 01123012113, 01123014104 और 01123017905 पर कॉल कर सकते हैं. 

Ukraine Russia Conflict के बीच यूक्रेन में भारतीय लोगों के लिए हेल्पलाइन नंबर

यूक्रेन में रहने वाले लोगों के लिए भारत सरकार ने  भारतीय दूतावास के माध्यम से  (एंबेसी) दो  हेल्पलाइन नंबर जारी किए  है. जिसकी मदत से भारतीय मूल के लोग फ्लाइट्स और बाकी जरूरी  चीजों को लेकर जानकारी जुटा सकते हैं ओर जरूरी सहायता ले सकते है. जरुरत पड़ने पर  यूक्रेन में इंडियन एंबेसी के नंबर +380997300428 और 380997300483 पर कॉल कर आप साहयता मांग सकते है यदि आप के परिजन भी  यूक्रेन  मे हैं तो आप उन्हे ऊपर लिखत सहायता नंबर दे सकते है .आप को बता दे की भारत सरकार की  ये हेल्पलाइन 24 घंटे जारी रहेंगीं. 

 भारतीय दूतावास की तरफ से यूक्रेन में रहने वाले लोगों के लिएएक  एडवाइजरी भी  जारी की गई थी. ओर इस मे भारत सरकार द्वरा कहा गया था की “भारतीय दूतावास ओर भारत सरकार  लगातार यूक्रेन मे बने हालात पर नजर बनाए रखे हुए हैं. भारत सरकार ने तमाम एविएशन, अथॉरिटीज और एयरलाइंस कंपनियों के साथ फ्लाइट्स की संख्या को बढ़ाने को लेकर निर्देश जारी किए  है”. भारतीय मूल के नागरिकों  से कहा गया था कि वो किसी भी तरह की मदद या आपात काल मे  एंबेसी में कॉल कर सकते हैं. भारत सरकार अपने हर नागरिक की मदत के लिए कटिबद्ध है. 

 यूक्रेन-रूस का विवाद  नियमित रूप से  Ukraine Russia Conflict

इस बीच आप को जानकारीदेदी  की रूस और यूक्रेन के बीच विवाद निरंतर रूप से जारी  (Ukraine Russia Conflict) है. आप को बता दे की  15 फरवरी को रूस की तरफ से  यूक्रेन की सीमाओं पर तैनात अपने कई हजार सैनिकों को बेस पर भेजने के निर्देश  जारी कर दिए है. जिसके बाद सरकारी आदेश का पालन करते हुए रूस के  सैनिक वापस लौट गए.

इससे पहले अमेरिका चाइना सहित बड़े बड़े देशों ने अंदेशा जताया था की  कि रूस यूक्रेन पर किसी भी समय हमला कर सकता है,  अमेरिका की ओर से हर बार ये चेतावनीदी जा रही थी. वहीं अपने विस्तार वादी कुटिल नीतियों वाला चीन रूस के समर्थन में उतर कर हालात भड़काने मे लगा हुआ था. लेकिन रूस ने जिम्मेदारी का परिचय देते हुए बड़ी चालाकी से इस पूरी मामले को  युद्धाभ्यास का नाम देकर खुद का बचावकरने मे सफल हुआ . रूस की तरफ से यह तर्क दिया जा रहा है कि  रूस सेना  जंग या किसी हमले के लिए तैनात नहीं की गई थीं.यह ड्रिल एक सामान्य युद्ध अभ्यास है.  

ये भी खबर पढ़ें – 

रूस ने पूर्वी यूक्रेन को अलग देश घोषित किया अब होगा युद्ध 

दिल्ली मे 87 की उम्र की महिला के साथ यौन उत्पीड़न 

भारत कोमिली  आईओसी  की मेजबानी 

 

news source abp 


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.